Home BASIC ELECTRICAL ओम का नियम,Ohm’s law kya hai|Ohm’s law in hindi

ओम का नियम,Ohm’s law kya hai|Ohm’s law in hindi

0
SHARE

Ohm’s law definition in hindi 

ओम के नियम (Ohm’s law) के द्वारा किसी चालक के दोनों सिरों के बीच का विभवांतर (Voltage) , चालक से प्रवाहित होने वाले विद्युत धारा (current) तथा चालक के प्रतिरोध (resistance) के बीच के संबंधों के बारे में बताया गया है| इस नियम का प्रतिपादन सर्वप्रथम जर्मन वैज्ञानिक और गणितज्ञ जॉर्ज साइमन ओम ने किया था| इसलिए इस नियम को om ka niyam (Ohm’s law) कहा जाता है|

Om ka niyam kya hai

 

ओम का नियम,Ohm's law kya hai|Ohm's law in hindi

ओम के अनुसार ‘जब किसी चालक का तापमान T स्थिर रहता तो उस चालक के किसी दो बिंदुओं के बीच प्रवाहित होने वाली विद्युत धारा I उन दोनों बिंदुओं के बीच के विभवांतर V के अनुक्रमानुपाती होती है|’

 

अतः ,                      I∝V

या                    V/I =नियतांक =R

जहां R एक अनुक्रमानुपाती नियतांक है, जिसे चालक का प्रतिरोध (Resistance) कहा जाता है|

अतः  दूसरे शब्दों में हम कह सकते है कि ‘स्थिर ताप पर चालक के किसी दो बिंदुओं के बीच का विभवांतर V और उन दोनों बिंदुओं के बीच प्रवाहित होने वाले विद्युत धारा I का अनुपात नियत रहता है|’

ओम के नियम के अनुसार चालक के किसी दो बिंदुओं के बीच प्रवाहित होने वाली विद्युत धारा I का उन दोनों बिंदुओं के बीच के विभवांतर V अनुक्रमानुपाती होने का तात्पर्य यह है कि जैसे-जैसे उन दोनों बिंदुओं के बीच विद्युत धारा के प्रवाह को बढ़ाते या घटाते जाते हैं ठीक वैसे-वैसे दोनों बिंदुओं के बीच का विभवांतर भी बढ़ता या घटता जाता है| अर्थात जब विद्युत धारा को दुगना करते हैं तो वोल्टेज दुगना हो जाता है और यदि धारा को तीन गुना कर देते हैं तो वोल्टेज भी तीन गुना हो जाता है | इसी प्रकार यदि दोनों बिंदुओं के बीच प्रवाहित विद्युत धारा (Current) को आधा कर देते हैं तो उन दोनों में दोनों के बीच का वोल्टेज भी आधा हो जाता है|

 

Ohm’s law formula

माना किसी चालक के दो बिंदुओं A और B के बीच प्रवाहित होने वाली धारा यदि I Amp (A) में , उन दोनों बिंदुओं के बीज का विभवांतर V वोल्ट (V) में तथा दोनों बिंदुओं के बीच एक चालक का प्रतिरोध R ओम (Ω) में है तो-

 

V=I\times R

R=\frac{V}{I}

कभी कभी ओम के नियम में वोल्टेज को दर्शाने के लिए V के स्थान पर E का प्रयोग किया जाता है | E विद्युत वाहक बल (Electromotive force) को प्रदर्शित करता है|

 

ऊपर के सूत्रों का प्रयोग करके किसी विद्युत परिपथ में प्रवाहित होने वाली विद्युत धारा I, वोल्टेज V तथा चालक के  प्रतिरोध R में से किसी दो के ज्ञात रहने तथा तीसरे के  अज्ञात रहने पर तीसरे को  ज्ञात किया जाता है|

Ohm’s law examples

1.जब किसी 10Ω विद्युत परिपथ को5 वोल्ट की सप्लाई दी जाती है तो उस विद्युत परिपथ से प्रवाहित होने वाली विद्युत धारा ज्ञात कीजिए ?

V = 5 Volt  R = 10 Ω   I =?

I = V / R

   = 5 / 10

    = 0.5A= 500mA

NOTE:-क्या आप किसी प्रतियोगी परीक्षा जैसे Rly. SSC आदि की तैयारी कर रहे हैं। यदि हां तो हम आपके लिए सामान्य ज्ञान के अति महत्वपूर्ण प्रश्नों का QUIZ APP लेकर आए हैं। यह ऐप आपके लिए बहुत ही सहायक सिद्ध होगा। इस ऐप को क्लिक  करके  डाउनलोड कीजिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here