Home BASIC ELECTRICAL Magnetic poles in Hindi | चुम्बक के ध्रुव

Magnetic poles in Hindi | चुम्बक के ध्रुव

0
SHARE

चुम्बक के ध्रुव ( Magnetic poles)

यदि किसी छड़ चुंबक (Bar Magnet) को लोहे के छोटे-छोटे टुकड़ों से भरे डब्बे में डालते हैं तो हम यह देखते हैं ( चित्र अ में )  कि जो लोहे के छोटे-छोटे टुकड़े होते हैं ,वह छड़ चुंबक के दोनो किनारों पर चिपके हुए होते हैं।

चित्र अ

छड़ चुंबक  (Bar Magnet) के इस प्रकार के व्यवहार से यह कह सकते है कि

  • छड़ चुंबक (Bar Magnet)  के दोनों किनारों पर चुंबकीय प्रबलता (Magnetic Strength) सबसे अधिक और इसके केंद्र में सबसे कम होती है |
  • हम अपनी सुविधा के लिए छड़ चुंबक के इन दोनों किनारों को ध्रुव (Magnetic Poles) कहते हैं |
  • इस प्रकार से किसी चुंबक में दो (Magnetic Poles)  ध्रुव  होते हैं|
  • एक उत्तरी ध्रुव (North Pole) तथा दूसरा दक्षिणी ध्रुव (South Pole) ।
  • चुंबक के उत्तरी तथा दक्षिणी ध्रुव को जानने के लिए इसे रस्सी से केंद्र को बांधकर लटकाते हैं |(चित्र ब में)
चित्र ब
  • इस चुम्बक को स्वतंत्रता पूर्वक लटकाने से-

यह चुंबक अपने आप ही घूमकर उत्तर-दक्षिण दिशा में स्थिर हो जाता है |

  • इसका जो सिरा दक्षिण दिशा में रहता है , उसे दक्षिणी ध्रुव (South Pole)  तथा जो सिरा उत्तर दिशा में है , उसे उत्तरी ध्रुव  (North Pole) कहते हैं |

चुंबक के ध्रुव (Magnetic poles) के संबंध में  निम्नलिखित बिंदुओं को हमें जानने की आवश्यकता है-

  •   किसी भी चुंबक के दोनों ध्रुवों को कभी भी अलग नहीं किया जा सकता |
  • यदि कोई छड़ चुंबक दो टुकड़ों में टूट जाती है तो भी उन दोनों टुकड़ों के दोनों सिरो पर दोनों ही ध्रुव उपस्थित रहते हैं |(चित्र स में )
चित्र स

 

  • चुंबक के अणु सिद्धांत (Molecular Theory of Magnet ) के अनुसार-

“चुंबकीय पदार्थों के सभी अणु अपने आप में एक पूर्ण चुंबक (Whole Magnet) होते हैं |”

  • इसलिए चुंबकीय पदार्थ के प्रत्येक आणुओं (Molecule)  में उत्तरी और दक्षिणी ध्रुव होते हैं |
  • किसी चुंबक के दोनों ध्रुवों की  प्रबलता समान होती है और इस सामर्थ्य को m से प्रदर्शित करते हैं |
  • दो असमान ध्रुव एक दूसरे को आकर्षित करते हैं जबकि दो सामान ध्रुव एक दूसरे को प्रतिकर्षित करते हैं |

जैसे- किसी चुंबक का उत्तरी ध्रुव किसी दूसरे चुंबक के उत्तरी ध्रुव को प्रतिकर्षण करेगा जबकि उत्तरी ध्रुव दूसरे चुंबक के दक्षिणी ध्रुव को आकर्षित करेगा |

  • किसी एक चुंबक के दोनों ध्रुवों के बीच की दूरी को चुंबकीय लम्बाई कहते हैं |
  • चुंबकीय लम्बाई का मान चुंबक के वास्तविक लंबाई अर्थात ज्यामितीय लंबाई से हल्का कम होता है|

NOTE:-क्या आप किसी प्रतियोगी परीक्षा जैसे Rly. SSC आदि की तैयारी कर रहे हैं। यदि हां तो हम आपके लिए सामान्य ज्ञान के अति महत्वपूर्ण प्रश्नों का QUIZ APP लेकर आए हैं। यह ऐप आपके लिए बहुत ही सहायक सिद्ध होगा। इस ऐप को क्लिक  करके  डाउनलोड कीजिए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here