Home GS & GK RIP Full from : What is RIP means in hindi

RIP Full from : What is RIP means in hindi

0
SHARE

Rip full from in Hindi

RIP Full from : What is RIP means in hindi

क्या आप rip full form जानना चाहते हैं या फिर r.i.p. का कब, कहां और कैसी स्थिति में प्रयोग होता है, जानना चाहते हैं तो आप इस समय सही स्थान पर हैं, मतलब कि सही पेज पर हैं| इस आर्टिकल में आपको rip ka full form फॉर्म के बारे में और rip means in hindi  के बारे में बात करेंगे तो आइए चलते हैं और स्टार्ट करते हैं।

What is the meaning of rip in hindi

जहां तक मुझे लगता है कि आप r.i.p. का मतलब इसलिए जाना चाहते हैं क्योंकि आप सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, टि्वटर  ,इंस्टाग्राम , यूट्यूब आदि पर एक्टिव रहते हैं और उसी पर किसी को r.i.p. का प्रयोग करते हुए देखा होगा और आप समझ नहीं पाए होंगे कि यह क्या लिखा है । सोशल मीडिया पर इसी प्रकार के बहुत सारे शब्द प्रयोग किए जाते हैं ,जिनमें से अधिकतर का प्रयोग बहुत ही लोग नहीं जानते हैं और बिना जाने अनजाने में ही इन शब्दों का प्रयोग करते हैं ।

RIP Meaning in Hindi

उनमें से बहुत ही बड़े स्तर पर प्रयोग किया जाने वाला छोटा शब्द है r.i.p. जिसको अक्सर आपने ध्यान दिया होगा तो शोक की स्थिति में  जैसे किसी की मृत्यु हो जाने पर प्रयोग किया जाता है लेकिन चुकी आप जानते नहीं हैं कि rip का मतलब क्या होता है इसलिए आपने r.i.p. को गूगल पर जानने का प्रयास किया है। अब जब आपने गूगल कर ही लिया है तो हमारी वेबसाइट का कर्तव्य बनता है कि आपको इस शब्द का फुल फॉर्म ही नहीं बल्कि rip के बारे में पूरी तरह विस्तार से समझाया जाए।

Rip ka full from 

सबसे पहले तो हम आपको अंग्रेजी में RIP Full Form क्या होता है,  बता देते हैं फिर उसके बाद इसके बारे में विस्तार से जाना जाएगा rip ka full formREST IN PEACE होता है और यदि rip meaning in hindi समझा जाए तो रेस्ट का मतलब आराम होता है, जबकि पीस का मतलब शांति होता है और शब्दों को एक साथ समझे तो शांति मे आराम होगा।

इस शब्द का प्रयोग तब किया जाता है जब किसी की मृत्यु हो जाती है । लोगों के द्वारा अमुक व्यक्ति की आत्मा की शांति की कामना करते हैं | अतः यह शब्द आत्मा की शांति के लिए किया जाता है।

What is the full form of RIP

इस शब्द का प्रयोग यूरोपीय देशों के ईसाई समाज में बहुत पहले से ही किया जाता रहा है| जब ईसाई समाज के किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके कब्र पर यह सब लिखकर लोग अपनी सांत्वना व्यक्त करते हैं और ईश्वर से उनकी आत्मा की शांति की प्रार्थना करते हैं| परंतु आज सोशल मीडिया का इंटरनेट का जमाना है जिसके कारण कोई चीज किसी एक स्थान पर सीमित नहीं रह गई है बल्कि या इंटरनेट के कारण पूरी दुनिया में तेजी से फैलती जा रही है और इसी कारण इस शब्द का प्रयोग सभी प्रकार के लोग बहुत ही बड़े स्तर पर करते हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here